निर्भया कांड के दोषियों की दिन ब दिन बढ़ती बदतमीजी से परेशान जेलकर्मी

निर्भया कांड के दोषियों की दिन ब दिन बढ़ती बदतमीजी से परेशान जेलकर्मी

वर्ष 2012 में 16 दिसंबर की रात घटी दर्दनाक निर्भया कांड (Nirbhaya Gangrape) के दोषियों को फांसी की सजा तय की गई। और इन दरिंदों के खिलाफ जब से नया डेथ वारंट (Death Warrant) जारी किया गया है तब से उनके व्यवहार में काफी बदलाव देखने को मिल रहा है. तिहाड़ जेल (Tihar Jail) प्रशासन के कथन के अनुसार दोषी मुकेश सिंह और विनय शर्मा पिछले कुछ दिनों से जेल स्टाफ के साथ हिंसक व्यवहार कर रहे हैं. रूटीन चेकअप के लिए आए जेल कर्मचारियों के साथ बदतमीजी कर रहे हैं .

सूत्रों के मुताबिक, जेल के कर्मचारी जब दोषी विनय को खाना देने जाते हैं, तो वह उनके साथ दुर्व्यवहार करता है. इसी तरह उसने कुछ दिन पहले जेल का नियम समझाने आए जेल अधिकारियों के साथ भी गलत व्यवहार किया था. इस दौरान मुकेश ने तो जेल से जुड़े कोई भी नियम को मानने तक से इनकार कर दिया था. तिहाड़ जेल प्रशासन के मुताबिक, निर्भया के दोषियों के गुस्से को देखने बाद अब एनजीओ से भी मदद मांगी गई है. जेल प्रशासन के मुताबिक निर्भया के दोषियों पर जेल के अधिकारी लगातार नजर रख रहे हैं. चारों दोषियों को सामान्य खाना दिया जा रहा है, जिससे वह स्वस्थ रहें. तिहाड़ जेल प्रशासन के मुताबिक, निर्भया के दोषियों को छोटी-छोटी बात पर गुस्सा आ रहा है. यही कारण है कि तिहाड़ जेल प्रशासन ने निर्भया के दोषियों को गुस्से पर नियंत्रण का पाठ पढ़ाना शुरू कर दिया है. जेल प्रशासन लगातार दोषियों के व्यवहार पर निगरानी रख रही है.

गौरतलब है कि दोषी विनय ने दिल्ली के पटियाला हाउस कोर्ट ने याचिका दाखिल कर बताया था कि उसकी मानसिक स्थिति ठीक नहीं है. हालांकि, जब काउंसलरों ने विनय की जांच की, तो उसके दावे की पोल खुल गई और उसकी मानसिक स्थिति पूरी तरह से ठीक पाई गई है।

निर्भया गैंगरेप और हत्या मामले में दोषियों के खिलाफ कोर्ट ने नया डेथ वॉरंट जारी कर दिया है. नए डेथ वारंट के अनुसार अब चारों दोषियों को एक साथ 3 मार्च की सुबह 6 बजे फांसी दी जाएगी. मिली जानकारी के मुताबिक तिहाड़ जेल के डीजी संदीप गोयल को भी नए डेथ वॉरंट का आधिकारिक आदेश सौंपा जा चुका है. कोर्ट के फैसले पर बात करते हुए निर्भया के पिता ने कहा कि वो कोर्ट के फैसले से ख़ुश हैं.

administrator

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *