अब बिहार में डॉग पॉलिटिक्स शुरू, राजद और जदयू आपस में भीड़े

अब बिहार में डॉग पॉलिटिक्स शुरू, राजद और जदयू आपस में भीड़े

नेशन भारत, सेंट्रल डेस्क: बिहार में जैसे जैसे विधानसभा चुनाव नजदीक आ रहा है राजनीतिक पार्टियों द्वारा आरोप प्रत्यारोप का दौर भी शुरू हो गया है. आपको बताते चले कि बिहार की सियासत में डॉग की इंट्री के बाद आरजेडी और जेडीयू के बीच ठन गई है. आरजेडी के ट्विटर हैंडल पर हुए एक ट्वीट के बाद बिहार में पक्ष और विपक्ष के नेताओं ने हमला करना शुरू कर दिया है.

आरजेडी के ट्वीट का जवाब देते हुए जेडीयू नेता निखिल मंडल ने तेजस्वी यादव को नौंवी फेल बताया है. निखिल मंडल ने ट्वीट कर लिखा है कि इस तरह का ट्वीट कोई नौंवी फेल ही ड्राफ्ट कर सकता है. और सूबे में सभी जानते हैं कि नौंवी फेल कौन है. ट्वीट में निखिल मंडल ने लिखा है बो टू योर लेवल एंड पेडीग्री.

वहीं जेडीयू नेताओं को पालतू कुत्ता कहे जाने पर सफाई देते हुए राजद के प्रवक्ता मृत्युंजय तिवारी ने कहा है कि राजनीति में भाषा की मर्यादा होनी चाहिए लेकिन जेडीयू ने भाषाई मर्यादा को तार तार किया है. जेडीयू के नेताओं ने पहले हमारे नेताओं पर गंभीर टिप्पणी की है और गिद्ध बताया था. अगर जेडीयू के नेता हमारे नेताओं को गिद्ध बताएंगे तो हम लोग जेडीयू नेताओं को गाय थोड़े ही कहेंगे. उन्होंने कहा कि जेडीयू के नेता गलत आरोप लगाने से बाज आएं वर्ना हमलोग भी चुप नहीं बैठने वाले हैं.

मामला यही नहीं रूका इसके बाद जेडीयू ने राजद को चेतावनी दी है कि सुधर जाओ वरना काट काट कर ठीक कर दूंगा. जेडीयू प्रवक्ता निखिल मंडल ने ट्वीट कर राजद नेताओं को चोर कहा है. उन्होंने कहा है कि चोर सड़क पर निकलते हैं तो लाजमी है कि कुत्ते चोर को देख भौंकेंगे ही. उन्होंने आगे लिखा है कि याद रखना चोरी करोगे तो ना सिर्फ भौंकेंगे बल्कि काट काट कर राजनीतिक रूप से खत्म कर दूंगा.

वहीं राजद प्रवक्ता मृत्युंजय तिवारी ने कहा है कि राजनीति में भाषा की मर्यादा होनी चाहिए लेकिन जेडीयू ने भाषाई मर्यादा को तार तार किया है. जेडीयू के नेताओं ने पहले हमारे नेताओं पर गंभीर टिप्पणी की है और गिद्ध बताया था. अगर जेडीयू के नेता हमारे नेताओं को गिद्ध बताएंगे तो हम लोग जेडीयू नेताओं को गाय थोड़े ही कहेंगे. उन्होंने कहा कि जेडीयू के नेता गलत आरोप लगाने से बाज आएं वर्ना हमलोग भी चुप नहीं बैठने वाले हैं.

administrator

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *