युवाओं ने अंबेडकर की प्रतिमा को धोकर किया शुद्धिकरण, गिरिराज सिंह ने किया था माल्यार्पण

युवाओं ने अंबेडकर की प्रतिमा को धोकर किया शुद्धिकरण, गिरिराज सिंह ने किया था माल्यार्पण

नेशन भारत, सेंट्रल डेस्क: बिहार विधानसभा चुनाव को लेकर राजनीतिक पार्टियों धमासान मच गया है. इसी को लेकर राजनीतिक पार्टियों में आरोप प्रत्योराप का दौर भी चल रहा है. आपको बता दें कि राजनीतिक पार्टियों में एक नया ट्रेंड शुरू किया है. यह नया ट्रैंड मुर्तियों को धोने की प्रचलन शुरू हुई है. अभी अभी एक खबर आ रही है कि बेगूसराय जिले के बलिया प्रखंड का है जहां गिरिराज सिंह के द्वारा बाबा साहब भीमराव अंबेडकर की प्रतिमा पर माल्यार्पण के बाद विपक्षी पार्टियों ने प्रतिमा सहित पूरे मंदिर परिसर को धोकर अपना विरोध प्रदर्शित किया.

बता दें कि बेगूसराय में केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने जिस अंबेडकर पार्क में बाबा साहब भीमराव अंबेडकर की प्रतिमा पर माल्यार्पण किया था, उस प्रतिमा को धोकर शुद्धिकरण किया गया. बहुजन क्रांति मोर्चा, राजद और वाम दलों के कार्यकर्ताओं ने बलिया प्रखंड कार्यालय स्थित बाबा साहब भीमराव अंबेडकर की प्रतिमा को धोया. प्रतिमा धोने वाले लोगों का कहना है कि केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह नफरत की राजनीति करते हैं और कल बाबा साहब अंबेडकर की प्रतिमा पर माल्यार्पण कर उन्हें अशुद्ध किया, इसलिए उन्हें जल से धोया जा रहा है.

दरअसल केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह शुक्रवार को सीएए के समर्थन और पुलवामा के शहीदों के याद में साहेबपुर कमाल से बलिया तक भारतवंशी जागृति यात्रा निकाली थी. यात्रा के बाद बलिया प्रखंड कार्यालय स्थित अंबेडकर पार्क में एक सभा को भी संबोधित किया गया था इसी पार्क में बाबा साहब भीमराव अंबेडकर की प्रतिमा लगी थी इसे गिरिराज सिंह और अन्य भाजपा नेताओं ने माल्यार्पण किया था. इसी को लेकर आज बहुजन क्रांति मोर्चा और वाम दलों और राजद के कार्यकर्ताओं ने अंबेडकर की प्रतिमा को धोकर शुद्धिकरण किया है.

वहीं, बेगूसराय में सांसद के प्रतिनिधि अमरेंद्र कुमार अमर ने भी तीखी प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए बताया कि आज टुकड़े-टुकड़े गैंग के सदस्यों के द्वारा कुत्सित राजनीति की जा रही है और पूरे देश को तोड़ने की साजिश की जा रही है. एक सम्मानित केंद्रीय मंत्री के बाबा साहब के मंदिर में प्रवेश करने पर मंदिर को अपवित्र बताना असंसदीय ही नहीं बल्कि बीमार मानसिकता का द्योतक है.बता दें कि बीते दिनों दरभंगा के ललित नारायण मिथिला यूनिवर्सिटी में कन्हैया कुमार के भाषण देने के बाद मंच को अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के कार्यकर्ताओं ने गंगाजल से धोया था. जाहिर है बिहार में होने वाले विधानसभा चुनाव के मद्देनज अभी ऐसे मामले काफी देखने को मिल सकते है

administrator

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *