उत्तर बिहार में बड़ी नदियां नरम, छोटी ने दिखाये तेवर

उत्तर बिहार में बड़ी नदियां नरम, छोटी ने दिखाये तेवर, कोसी और सीमांचल में जलस्तर में उतार-चढ़ाव जारी

0 208

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

PATNA 02.07.22 –नेपाल से निकलने वाली नदियों के जलग्रहण क्षेत्र में बारिश में राहत से उत्तर बिहार से गुजरने वाली बड़ी नदियां थोड़ी नरम पड़ी हैं। हालांकि छोटी नदियों के तेवर अभी भी खतरनाक बने हैं। कोसी और सीमांचल के जिलों में नदियों के जलस्तर में उतार-चढ़ाव शुक्रवार को भी जारी रहा। अररिया जिले में बकरा नदी में उफान से आधा दर्जन ग्रामीण सड़कों पर बाढ़ का पानी फैल गया तो किशनगंज में महानंदा सहित सभी नदियों के जलस्तर में कमी आई।

 
बाढ़ का कहरः उत्तर बिहार में बड़ी नदियां नरम, छोटी ने दिखाये तेवर, कोसी और सीमांचल में जलस्तर में उतार-चढ़ाव जारी

- Sponsored -

- Sponsored -

नेपाल से निकलने वाली नदियों के जलग्रहण क्षेत्र में बारिश में राहत से उत्तर बिहार से गुजरने वाली बड़ी नदियां थोड़ी नरम पड़ी हैं। हालांकि छोटी नदियों के तेवर अभी भी खतरनाक बने हैं। कोसी और सीमांचल के जिलों में नदियों के जलस्तर में उतार-चढ़ाव शुक्रवार को भी जारी रहा। अररिया जिले में बकरा नदी में उफान से आधा दर्जन ग्रामीण सड़कों पर बाढ़ का पानी फैल गया तो किशनगंज में महानंदा सहित सभी नदियों के जलस्तर में कमी आई।

कटिहार जिले में सभी नदियों के जलस्तर में वृद्धि दर्ज की गयी तेा पूर्णिया में नदियों का जलस्तर कम हो रहा है। सहरसा और सुपौल जिले में कोसी नदी का जलस्तर कम हुआ है।अररिया जिले में जोकीहाट प्रखंड होकर बहने वाली बकरा नदी के उफनाने से आधा दर्जन ग्रामीण सड़क पर पानी बहने लगा है। कई लोगों के घर आंगन तक बाढ़ का पानी फैल गया है। कुछ स्कूलों में पानी घुसने से पढ़ाई बंद हो गई है। इधर परमान नदी का पानी दूसरे दिन भी अररिया से महिषाकोल जाने वाली सड़क पर बह रहा था। वहीं चौकता पंचायत के मछैला कब्रिस्तान से पेचैली , चौकता से इसरवा, बोरैल से टेकनी , भूना से इसरवा, दर्गापुर से मसुरिया, फेटकी से बागडहरा जोड़ने वाली आदि सड़क पर पानी बहने लगा है।

वैशाली में मानसूनी वर्षा के कारण कारण गंगा नदी का जलस्तर भी तेजी के साथ बढ़ा है। नदी के जलस्तर के बढ़ने से शुक्रवार को कच्ची दरगाह-बिदुपुर निर्माणाधीन सिक्स लेन पुल के पाया नंबर एमपी 03, 04 पटना जिले के साइड और बिदुपुर साइड से पाया नंबर एमपी 56 से 66 तक का काम बंद हो गया है। गोरौल में गंडक नहर का पूर्वी बांध टूटने से ग्रामीणों में दहशत है। सीवान में सरयू नदी और गंडक में कटाव जारी है तो गोपालगंज में गंडक का पानी बढ़ने से चार सड़कों पर आवागमन बाधित है।

मधुबनी में धौंस और बिहुल मचा रही तबाही बारिश थमने के साथ ही मधुबनी से गुजरने वाली कोसी, कमला, भुतही बलान व तिलयुगा नदी की जलस्तर में कमी  आ रही है। हालांकि छोटी नदियां धौंस व बिहुल बेनीपट्टी, बिस्फी व लौकही प्रखंड में तबाही मचा रही है। उधर, कोसी का पानी फैलने से दियारा क्षेत्र में घाटों पर आवागमन का साधन नाव ही बना है।

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

- Sponsored -

- Sponsored -

Comments
Loading...

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More