रिलायंस रिटेल में 8,199 करोड़ रुपये में एक प्रतिशत हिस्सेदारी खरीदेगा कतर निवेश प्राधिकरण

कतर निवेश प्राधिकरण रिलायंस रिटेल में एक प्रतिशत हिस्सेदारी खरीदेगा 8,199 करोड़ रुपये

244

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

कतर निवेश प्राधिकरण रिलायंस रिटेल में एक प्रतिशत हिस्सेदारी खरीदेगा 8,199 करोड़ रुपये

रिलायंस रिटेल में 8,199 करोड़ रुपये में एक प्रतिशत हिस्सेदारी खरीदेगा कतर  निवेश प्राधिकरण - Qatar Investment Authority to buy one percent stake in Reliance  Retail for Rs 8,199 crore

नई दिल्ली/टीम डिजिटल मुकेश अंबानी की अगुवाई वाली रिलायंस इंडस्ट्रीज की खुदरा इकाई में करीब एक प्रतिशत हिस्सेदारी खरीदने के लिए कतर का सॉवरेन संपदा कोष बातचीत कर रहा है। बुधवार को उद्योग सूत्रों ने यह जानकारी दी।

सूत्रों ने बताया कि कतर निवेश प्राधिकरण (क्यूआईए) ने रिलायंस रिटेल वेंचर्स लि. (RRRL) में एक प्रतिशत हिस्सेदारी का अधिग्रहण 8,199 करोड़ रुपये (एक अरब डॉलर) में किया जाएगा। आरआरवीएल का इस तरह का मूल्यांकन लगभग 100 अरब डॉलर होगा।

रिलायंस इंडस्ट्रीज के खुदरा साम्राज्य में आरआरवीएल होल्डिंग कंपनी है। इस कदम से आरआरवीएल का विस्तार और तेज होगा। रिलायंस रिटेल के प्रवक्ता ने पीटीआई-भाषा से कहा, “कंपनी निरंतर आधार पर विभिन्न अवसरों का मूल्यांकन करती है।” हमारा सिद्धांत है कि हम बाजार में चल रही अटकलों पर टिप्पणी नहीं करेंगे।”

- Sponsored -

- sponsored -

- sponsored -

मीडिया ने इस महीने पहले कहा था कि आरआरवीएल का मूल्यांकन 92 से 96 अरब डॉलर के बीच हुआ है। आरआरवीएल कंपनियों का अधिग्रहण करते हुए भारत में अपने कारोबार को तेजी से बढ़ा रहा है।

वह भी प्रमुख अंतरराष्ट्रीय ब्रांड के फ्रेंचाइजी अधिकारों को भारत में ला रही है। इस महीने की शुरुआत में रिलायंस रिटेल ने घोषणा की थी कि वह अपने प्रवर्तक और होल्डिंग कंपनी के अलावा अन्य शेयरधारकों के पास मौजूद इक्विटी शेयर पूंजी को कम कर रही है।

चार जुलाई, 2023 को, कंपनी के निदेशक मंडल ने शेयरधारकों की इस तरह की पूंजी को रद्द करने का प्रस्ताव पारित किया। 2020 में आरआरवीएल ने 10.09 प्रतिशत हिस्सेदारी बेचकर वैश्विक निजी इक्विटी कोषों से 47,265 करोड़ रुपये (लगभग 6.4 अरब डॉलर) प्राप्त किए। उस समय कंपनी का 4.2 लाख करोड़ रुपये से अधिक का मूल्यांकन था।

उस समय, कंपनी ने सिल्वर लेक, केकेआर, मुबाडला, अबू धाबी निवेश प्राधिकरण, जीआईसी, टीपीजी, जनरल अटलांटिक और सऊदी अरब के सार्वजनिक निवेश कोष से लगभग 57 अरब डॉलर का निवेश प्राप्त किया था।

 

Reported  By Lucky Kumari

 

 

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

- Sponsored -

- Sponsored -

Comments
Loading...

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More