10 करोड़ नए उपभोक्ता जोड़ने का दम रखता है जियो भारत मोबाइल – बोफा सिक्योरिटीज

10 करोड़ नए उपभोक्ता जोड़ने का दम रखता है

240

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

10 करोड़ नए उपभोक्ता जोड़ने का दम रखता है

10 करोड़ नए उपभोक्ता जोड़ने का दम रखता है जियो भारत मोबाइल: बोफा सिक्योरिटीज  | Loksaakshya

2जी फीचर फोन ग्राहकों को 26% तक की बचत मिलेगी: जेफ़रीज़ एयरटेल और वोडाफोन-आइडिया के 2जी ग्राहक शिफ्ट कर सकते हैं नई दिल्ली, 27 जुलाई, 2023: अगले दो से तीन वर्षों में रिलायंस जियो का नया जियो भारत मोबाइल 10 करोड़ से अधिक नए ग्राहक ला सकता है। इस बारे में बोफा सिक्योरिटीज (BoFA Securities), एक प्रतिष्ठित ब्रोकरेज हाउस, ने एक रिपोर्ट जारी की है। रिपोर्ट के अनुसार, जियो भारत फोन का उत्पादन बढ़ाया जा सकता है, तो यह दूसरी कंपनियों के 2जी फीचर फोन ग्राहकों को खींच लेगा। इससे एयरटेल और वोडाफोन आइडिया को अपने 2जी ग्राहकों को सुरक्षित रखने के लिए बहुत कुछ करना होगा।

- Sponsored -

- sponsored -

- sponsored -

बोफा सिक्योरिटीज के अनुसार, 2जी और फीचर फोन के ग्राहकों के लिए जियो भारत फोन आकर्षक सुविधाओं के साथ आ रहा है। रिपोर्ट के अनुसार, जियो भारत का 999 रुपये का फोन, बाजार में उपलब्ध अधिकांश फीचर फोन से सस्ता है। यह भी अनलिमिटेड फ्री वॉयस कॉलिंग के साथ पेश किया जा रहा है, जो 2जी ग्राहकों को आकर्षित करेगा।

मार्केट एनालिस्ट्स ने बताया कि भारत में लगभग 25 करोड़ 2जी ग्राहक हैं, जिनमें से लगभग 13 करोड़ भारती एयरटेल से जुड़े हैं। कुल 13 करोड़ ग्राहकों में से लगभग 10 करोड़ ऐसे हैं जो एयरटेल को वॉयस कॉलिंग, यानी मोबाइल पर बातचीत करने के लिए भुगतान करते हैं। जियो भारत फीचर फोन ने अनलिमिटेड फ्री वॉयस कॉलिंग पैकेज के साथ एयरटेल और वोडाफोन आइडिया के 2जी ग्राहक बेस को प्रभावित कर सकता है।

जेफ़रीज़ नामक एक अन्य ब्रोकरेज हाउस ने कहा कि जियो भारत मोबाइल से फीचर फोन उपयोगकर्ताओं को डिवाइस प्लस सेवा पर 26% तक की बचत हो सकती है। जेफरीज के अनुसार, एयरटेल 2जी फीचर फोन बाजार में सबसे बड़ा प्रतिद्वंद्वी है। एयरटेल को जियो भारत फीचर फोन से सबसे अधिक नुकसान हो सकता है। “हम उम्मीद कर रहे हैं कि मार्च 2026 तक भारती को छोड़ने वाले 2जी ग्राहकों की संख्या में लगातार इजाफा होगा”, जेफरीज ने कहा। इसलिए, हमारे पूर्वानुमान में भारती के लिए वित्त वर्ष 2024 से 2026 के बीच 1-4% की कमी होगी।“

 

Reported by Lucky Kumari

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

- Sponsored -

- Sponsored -

Comments
Loading...

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More