बिहार के इमाम की असम में हुई निर्मम हत्या

150

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

बिहार में अपराधों में अब एक ताजा मामला पूर्णिया से जुड़ा हुआ है। अब यहां के एक बुजुर्ग की असम में हत्या कर दी गई है। ये बुजुर्ग कई वर्षों से असम के तीन सुखिया में इमाम पद पर कार्यरत था।

मिली जानकारी के अनुसार, बिहार के पूर्णिया जिले के बायसी थाना क्षेत्र के पोखरिया गांव के 55 वर्षीय मुफ्ती मोहम्मद तहजीबुल इस्लाम की निर्मम हत्या कर दी गई है। इस हादसे के बाद बायसी में मातम का माहौल छाया हुआ है। आस- पास के लोग भी इस घटना की काफी चर्चा कर रहे हैं। ऐसे में अब  इस हत्या को लेकर तरह-तरह की चर्चा की जा रही है।

- Sponsored -

- Sponsored -

वहीं, इस घटना को लेकर बनगामा पंचायत के मुखिया प्रतिनिधि एवं उनके पुत्र ने बताया कि- मृतक  तहजिबुल इस्लाम असम के तीन सुखिया में वर्षों से कार्यरत थे और इस बार एक माह पूर्व ही वो घर आकर वापस से असम गए थे। जहां उनकी गला रेत कर निर्मम हत्या कर दिया गया। फिलहाल हमें इस बात की सूचना मिली है।

उधर, घटना को लेकर  मृतक के पुत्र मौलाना हसनैन ने बताया कि उनके पिता से मदरसा के सिकरेट्री अपने भांजा सरयत के खिलाफ निकाह पढ़ाने की बात के लिए जबरदस्ती कर रहे थे और मेरे पिता ने इस कार्य से इंकार कर दिया। जिससे उनकी हत्या कर दी गई। वहीं, अब इस घटना के बाद मास्टर मुजाहिद, शाहिद रजा एवं अन्य प्रतिनिधि के प्रयास और प्रशासन की तत्परता दिखाते हुए हत्यारे को गिरफ्तार कर कार्रवाई शुरू कर दिया है और शव का पोस्टमार्टम कर उनके परिजनों को सौंप दिया गया।  शव के गांव पहुंचते ही लोगों का जनसैलाब उमर गया वहीं इमाम की पत्नी,एक पुत्र और तीन पुत्रियां सहित परिजनों का रो रो कर बुरा हाल ह

  • report by Ananya Sahay

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

- Sponsored -

- Sponsored -

Comments
Loading...

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More