प्रधानमंत्री मोदी ने बता एनडीए को बताया भारत के नए डेवलपमेंट का मॉडल

92

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

NDA की संसदीय दल की बैठक आज के सेंट्रल हॉल में खत्म हो गई है। अब तय माना जा रहा है कि आज ही NDA की सरकार बनाने का दावा पेश करेगी। 9 जून को नरेंद्र मोदी तीसरी बार प्रधानमंत्री की शपथ लेंगे। इससे पहले TDP अध्यक्ष एन चंद्रबाबू नायडू और जनता दल (यूनाइटेड) के प्रमुख नीतीश कुमार जैसे गठबंधन के वरिष्ठ सदस्य राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू से मुलाकात करेंगे और उन्हें समर्थन देने वाले सांसदों की सूची सौंपेंगे।

बैठक में  प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा, ‘मैं इस सभाकक्ष में उपस्थित घटक दलों के सभी नेताओं, सभी नवनिर्वाचित सांसदों और हमारे राज्यसभा सांसदों का हृदय से आभार व्यक्त करता हू। मेरे लिए खुशी की बात है कि आज मुझे इतने बड़े समूह का स्वागत करने का अवसर मिला है। जीत कर आए सभी नेता बधाई के पात्र हैं। जिन लाखों कार्यकर्ताओं ने दिन-रात मेहनत की है, मैं आज इस केंद्रीय कक्ष से उन्हें नमन करता हूं, उनका वंदन करता हूं।

आगे मोदी ने कहा कि, “बहुत कम लोग इस पर चर्चा करते हैं, शायद यह उन्हें शोभा नहीं देता। लेकिन भारत के महान लोकतंत्र की ताकत देखिए आज लोगों ने एनडीए को 22 राज्यों में सरकार बनाने और सेवा करने का अवसर दिया है। मैं बहुत भाग्यशाली हूं कि सभी ने सर्वसम्मति से मुझे एनडीए का नेता चुना है। आप सभी ने मुझे एक नई जिम्मेदारी दी है और मैं आपका बहुत आभारी हूं।

जब मैं 2019 में इस सदन में बोल रहा था, तो आप सभी ने मुझे नेता के रूप में चुना था, तब मैंने एक बात पर जोर दिया था, वह है विश्वास! आज जब आप मुझे यह भूमिका दे रहे हैं, तो इसका मतलब है कि हमारे बीच विश्वास का पुल मजबूत है। यह रिश्ता विश्वास की मजबूत नींव पर है और यही सबसे बड़ी पूंजी है।

- Sponsored -

- Sponsored -

एनडीए शुरुआत में 30 साल के लंबे अंतराल के बाद इकट्ठा हुआ होगा। लेकिन आज मैं कह सकता हूं कि एनडीए भारत की राजनीतिक व्यवस्था में एक जैविक गठबंधन है और अटल बिहारी वाजपेयी, प्रकाश सिंह बादल, बालासाहेब ठाकरे जैसे महान नेताओं में जिन्होंने बीज बोया, आज भारत के लोगों ने एनडीए के भरोसे को सींचा और उस बीज को फलदायी बना दिया है। हम सभी के पास ऐसे महान नेताओं की विरासत है और हमें इस पर गर्व है।  पिछले 10 वर्षों में हमने एनडीए की उसी विरासत, उन्हीं मूल्यों को लेकर आगे बढ़ने का और देश को आगे बढ़ाने का प्रयास किया है।

आगे मोदी ने कहा कि, मैं देश की जनता को भरोसा दिलाता हूं कि उन्होंने हमें सरकार चलाने के लिए जो बहुमत दिया है, हमारा प्रयास होगा कि हम आम सहमति की दिशा में प्रयास करेंगे और देश को आगे ले जाने में कोई कसर नहीं रहने देंगे। एनडीए ने लगभग 3 दशक पूरे कर लिए हैं, यह कोई साधारण बात नहीं है। मैं कह सकता हूं कि यह सबसे सफल गठबंधन है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा, 2024 का जनादेश एक बात को बार-बार पुख्ता कर रहा है कि आज के परिदृश्य में देश को सिर्फ और सिर्फ NDA पर भरोसा है। जब इतना अटूट भरोसा हो तो देश की अपेक्षाएं बढ़ना स्वाभाविक है. मैं इसे अच्छा मानता हूं। मैंने पहले भी कहा था कि हमने जो 10 साल काम किया, वो तो बस ट्रेलर है। ये सिर्फ चुनावी बयान नहीं था, ये मेरा कमिटमेंट था।

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

- Sponsored -

- Sponsored -

Comments
Loading...

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More