बिहार बल भवन किलकारी, दरभंगा में समर कैंप 2021 का समापन कार्यक्रम किया गया

0 48
- Sponsored -

- Sponsored -

बिहार बल भवन किलकारी, दरभंगा में  दिनांक 19/ 6 /2021 को दोपहर 2:00 बजे से 17 दिवसीय  समर कैंप 2021 का समापन कार्यक्रम ऑनलाइन माध्यम एवं ऑफलाइन माध्यम से आरम्भ किया गया । इस कार्यक्रम का संचालन  जूम लाइव, फेसबुक लाइव, एवं यूट्यूब के माध्यम से प्रसारित किया गया। 

 इस कार्यक्रम की मुख्य अतिथि श्रीमती ज्योति परिहार, किलकारी निदेशक डॉक्टर लावण्या कीर्ति सिंह “काव्य” पूर्व संगीत एवं नृत्य विभागाध्यक्ष ललित नारायण मिथिला विश्वविद्यालय दरभंगा, पद्मश्री डॉ उषा किरण खान प्रख्यात कवित्री एवं साहित्यकार पटना विश्वविद्यलय ।
 उपरोक्त विशिष्ट अतिथियों के साथ  बाह्य प्रशिक्षकों, अभिभावकों एवं बच्चों के साथ ऑफ लाइन जुड़कर श्री वेद प्रकाश कार्यक्रम समन्वयक किलकारी, दरभंगा एवं सुश्री स्नेहा रानी सहायक कार्यक्रम पदाधिकारी किलकारी, दरभंगा ने दीप प्रज्वलन कर कार्यक्रम का शुभारंभ किया। 

श्री वेद प्रकाश जी अपने स्वागत भाषण में सभी बाह्य विशेषज्ञों, विशिष्ट अतिथियों, अभिभावकों एवं विशेष रूप से बच्चों का धन्यवाद किये । साथ ही किलकारी दरभंगा के कर्मियों एवं प्रशिक्षकों  के अथक परिश्रम की प्रशंसा व धन्यवाद किये। इसके उपरांत पूरे समर कैंप के दौरान दिए गए प्रशिक्षण का संक्षेप में वीडियो प्रोजेक्टर के माध्यम से दिखाया गया। जिसे ऑनलाइन एवं ऑफलाइन सभी ने देखा साथ ही सभी प्रशिक्षक अपनी-अपनी विद्या के प्रशिक्षण का अनुभव संक्षेप में व्यक्त किये । मंच संचालन किलकारी  प्रशिक्षु श्रुति मिश्रा एवं सृष्टि मिश्रा ने मैथिली भाषा में बहुत ही मनोरंजक तरीके से किया । 
विगत 3 जून से 17 जून तक बच्चों ने कुल 40 प्रकार की विद्याओ (गतिविधियों) में भाग लेकर प्रशिक्षण प्राप्त किया, जिसमें दरभंगा किलकारी के अतिरिक्त बाह्य विशेषज्ञों ने  बच्चों को ऑनलाइन प्रशिक्षण दिया ।
इन विशेषज्ञों एवं प्रशिक्षकों की संख्या कुल 34 रही। इस समर कैंप में कुल 760 बच्चों ने भाग लिया।  दरभंगा के अतिरिक्त  बिहार के विभिन्न 9 जिलों के एवं देश के विभिन्न राज्यों जैसे कि पश्चिम बंगाल एवं उत्तर प्रदेश के बच्चों ने जुड़कर रोचक गतिविधियों का भरपूर लाभ उठाया । 
समर कैंप 2021 में 8 वर्ष से 16 वर्ष तक के बालक बालिकाओं ने प्रशिक्षण लिया। इसमें कुल 34 विशेषज्ञ शामिल होकर बच्चों को प्रशिक्षण दिए ।
 इस कार्यक्रम का मुख्य आकर्षण इसकी  साज-सज्जा रही जो कि “जल जीवन हरियाली” थीम पर आधारित रही। दूसरी विशेषता ये की घरेलू सामग्री एवं वेस्ट मेटेरियल से कार्य करना एवं सामग्री तैयार करना प्राथमिकता रही। 
बहुत ही कम समय मे श्री वेद प्रकाश जी के निरीक्षण में सभी कर्मी एवं प्रशिक्षकों  ने बहुत ही आकर्षक तरीके से मंच तैयार किया । 
 कार्यक्रम से जुड़े मुख्य अतिथियों के अतिरिक्त बाह्य विशेषज्ञ कन्हैया कुमार, गोविंद कुमार, कुमार संभव, परवीन कुमार, अर्चना कुमारी, मधुरिमा मिश्र, कुमारी चंदना सिंह, दीपक कुमार, गौतम कुमार, अमरनाथ प्रसाद मिथिलेश कुमार, पवन कुमार, विक्रम कुमार,सिमरन कुमारी, रूपेश कुमार, स्नेहा कुमारी, अंकित कुमार अंकुश प्रसाद, साहिल सिंह आदि के अतिरिक्त  प्रशिक्षण ले रहे बच्चे जैसे गौरव, पंखुरी, भूमी, शाम्भवी, ट्विंकल, माधुरी, निखिल, सिमरन, सूरज,  हार्दिक, वैष्णवी, दीक्षा, सत्यम ,देवेश, तेजस्विनी , अबान, अर्णव, खुशी, अंश, शिवांगी आदि अनगिनत बच्चे ऑनलाईन समर कैम्प 2021 समापन कार्यक्रम का आनंद उठाये। साथ ही  प्रशिक्षण के दौरान के अनुभव को भी व्यक्त किया तथा इन बच्चों के अभिभावकों ने भी  समर कैम्प के अनुभवों को साझा किया। 

ऑनलाइन उपस्थित सभी मुख्य अतिथियों ने बच्चों की प्रस्तुतियों एवं उनकी गतिविधियों की प्रसंशा करते हुए उनके उज्जवल भविष्य की कामना की तथा किलकारी द्वारा सृजनात्मक कार्य हेतु नित नए-नए गतिविधियों के संचालन की प्रशंसा की एवं शुभकामनाएं दी। 
इसी के साथ कार्यक्रम की समाप्ति से पूर्व धन्यवाद ज्ञापन सुश्री स्नेह रानी एवं श्री आनंद किशोर के वाणी द्वारा किया गया। जिसमें सभी प्रशिक्षक / कर्मी उपस्थित रहे। इसमें कुछ सीनियर बच्चे भी शामिल रहे जो समर कैम्प की तैयारियों में बहुत मदद किये।
बच्चों के विद्यालय के गर्मी छुट्टी को और अधिक सृजनात्मक और मनोरंजनपूर्ण बनाने हेतु प्रति वर्ष समर कैम्प का आयोजन करती है परंतु इस साल पिछले साल की भांति ऑनलाइन समर कैम्प का आयोजन किया गया। जो कि पूर्ण रूप से सफल रहा।
कोरोना संक्रमण के विकट परिस्थितियों में भी बच्चों ने किलकारी दरभंगा के समर कैम्प में प्रशिक्षण ग्रहण कर किलकारी द्वारा किये गए मेहनत में चार चांद लगा दिए।बच्चों ने घर पर रहकर इस ऑनलाइन समर कैम्प को सार्थक बनाया जिसमे अभिभावकों ने पूर्ण सहयोग किया। 

Looks like you have blocked notifications!
- Sponsored -

- Sponsored -

Comments
Loading...

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More