बंगाल समेत 5 राज्यों में चुनाव की तारीखों का एलान

बंगाल समेत 5 राज्यों में चुनाव की तारीखों का एलान

मुख्य चुनाव आयुक्त ने बंगाल समेत 5 राज्यों में चुनाव की तारीखों का एलान कर दिया है. पश्चिम बंगाल, असम, केरल, तमिलनाडु और केंद्र शासित प्रदेश पुदुचेरी में होने वाले विधानसभा चुनाव के तारीखों की घोषणा की गई है. बिहार चुनाव के बाद यह दूसरा मौका है, जब किसी राज्य में विधानसभा चुनाव कोरोना काल में कराया जा रहा है.

असम में तीन चरणों में चुनाव होगा. 27 मार्च को पहले, 1 अप्रैल को दूसरे और 6 अप्रैल को मतदान होगा. जबकि असम में चुनाव का परिणाम  2 मई को आएगा. केरल और तमिलनाडु में सिर्फ एक चरण में चुनाव होगा. 6 अप्रैल को केरल और तमिलनाडु के सभी विधानसभा सीटों के लिए मतदान होगा. केंद्र शासित प्रदेश पुदुचेरी में में भी एक ही चरण में चुनाव कराया जायेगा. इस राज्य में भी 6 अप्रैल को ही मतदान होगा. इन तीनों राज्यों में मतगणना 2 मई को ही होगी. 

पश्चिम बंगाल में 8 चरणों में मतदान होगा. बंगाल में 27 मार्च को पहले चरण में मतदान होगा. दूसरे चरण में 1 अप्रैल को मतदान होगा.

मुख्य चुनाव आयुक्त सुनील अरोड़ा ने बताया कि पांच राज्यों में इस बार 18 करोड़ मतदाता अपने मताधिकार का इस्तेमाल करेंगे. कुल 824 विधानसभा सीटों पर वोटिंग होगी. उन्होंने बताया कि असम में 33 हज़ार पोलिंग स्टेशन होंगे. इस बार के चुनाव के लिए तमिलनाडु में 66 हज़ार मतदान केंद्र बनाए जाएंगे. मुख्य चुनाव आयुक्त सुनील अरोड़ा ने जानकारी दी कि इस बार पश्चिम बंगाल में 1 लाख 1 हज़ार 916 मतदान केंद्र बनाए जाएंगे. कोरोना काल की वजह से चुनाव आयोग ने सभी राज्यों में लगभग 30 फीसदी मतदान केंद्र बढ़ा दिए हैं. केरल में पहले 21,498 चुनाव केंद्र थे, अब वहां चुनाव केंद्रों की संख्या 40,771 होगी. पश्चिम बंगाल में 2016 में 77,413 चुनाव केंद्र थे अब 1,01,916 चुनाव केंद्र होंगे.

मुख्य चुनाव आयुक्त सुनील अरोड़ा ने कहा है कि चुनावों के दौरान कोरोना की गाइडलाइन्स का पूरी तरह पालन किया जाएगा. उन्होंने इस दौरान कोरोना के योद्धाओं को सलाम भी किया. उन्होंने कहा कि सभी चुनाव कोरोना को ध्यान में रखते हुए कराया जाएगा. मुख्य चुनाव आयुक्त ने कहा कि हमारे लिए मतदाताओं को सुरक्षित, मजबूत और जागरूक रखना सबसे बड़ा काम है. हमने कोरोना दौर में राज्यसभा की 18 सीटों के लिए चुनाव की शुरुआत की. फिर बिहार चुनाव कराया. अब ये पांच विधान सभा चुनाव ज्यादा चुनौती भरे हैं.

मुख्य चुनाव आयुक्त ने कहा कि चुनाव के दौरान कई कर्मचारी और अधिकारी तो कोविड संक्रमण की चपेट में आए. ठीक हुए और फिर चुनावी ड्यूटी निभाई. हमने ऐसे कई कोरोना वीरों को राष्ट्रपति से पुरस्कार दिलाया. उनका सम्मान किया. 2021 ने वैश्विक समुदाय की एकजुटता और समझ में लचीलापन बनाया है. हमें उम्मीद की कहानियों से राहत मिलेगी. उन्होंने कहा कि कोरोना को ध्यान में रखते हुए ये चुनाव होंगे. कोरोना योद्धाओं को सलाम. मतदाताओं की सुरक्षा का ध्यान रखा जाएगा. चुनाव के दौरान कोरोना गाइडलाइंस का पालन होगा.

administrator

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *