26 जनवरी तक क़ानून वापस नहीं होते तो इसको मेरा त्यागपत्र ही समझा जाए – अभय सिंह चौटाला इंडियन नेशनल लोक दल (INLD) के नेता

26 जनवरी तक क़ानून वापस नहीं होते तो इसको मेरा त्यागपत्र ही समझा जाए – अभय सिंह चौटाला इंडियन नेशनल लोक दल (INLD) के नेता

इंडिया सिटी लाइव(CHANDIGARH) 11 जनवरी:अभय चौटाला ने कहा है कि अगर केंद्र सरकार कृषि क़ानून वापस नहीं लेती तो विधानसभा से मेरा इस्तीफ़ा समझा जाए. अभय चौटाला ने ये भी कहा है कि अगर 26 जनवरी तक क़ानून वापस नहीं होते तो इसको मेरा त्यागपत्र ही समझा जाए. आंदोलन की शुरूआत से ही अक्षय चौटाला तीनों कृषि कानूनों को रद्द करने की मांग पर अड़े हुए हैं. साथ ही उनकी मांग है कि सरकार किसानों के खिलाफ दर्ज मुकदमे भी वापस ले.

आंदोलन और कृषि कानून पर सुनवाई के दौरान आज सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र सरकार को जमकर फटकार लगाई. सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि अगर सरकार कृषि कानून पर रोक नहीं लगाती है तो हम रोक लगा देंगे. हम बाद में आंदोलनकारियों से पूछेंगे की आप सड़कों से हटेंगे या नहीं. सुप्रीम कोर्ट ने यह भी कहा कि सरकार सभी लोगों को समझाकर वापस घर भेजे ताकि कानून व्यवस्था बनी रहे. हमें आशंका है कि आगे हिंसा भी भड़क सकती है.

बता दें कि सुप्रीम कोर्ट में आज की सुनवाई पूरी हो गई है. बड़ी बात ये है कि सुप्रीम कोर्ट के आदेश का एक हिस्सा आज आने की उम्मीद है.वहीं, सुप्रीम कोर्ट में कमिटी के गठन समेत बाकी मुद्दों पर कल सुनवाई हो सकती है.

administrator

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *