नीतीश मंत्रिमंडल का विस्तार- बीजेपी सामाजिक और क्षेत्रीय समीकरण का खासा ध्यान रखना चाहती है

नीतीश मंत्रिमंडल का विस्तार- बीजेपी सामाजिक और क्षेत्रीय समीकरण का खासा ध्यान रखना चाहती है

इंडिया सिटी लाइव 1फरवरी : नीतीश मंत्रिमंडल का विस्तार काफी दिनों से प्रतिक्षित है.बीजेपी के शीर्ष नेताओं ने चर्चा की है उनमें से कुछ नए तो कुछ पुराने चेहरे भी शामिल हैं. बीजेपी से जुड़े सूत्रों के मुताबिक आलाकमान के साथ बिहार के बीजेपी नेताओं ने जिन चेहरों के मंत्रिमंडल में शामिल किए जाने पर चर्चा हुई उनमें पार्टी के कद्दावर नेता शाहनवाज हुसैन, संजय सिंह, राणा रणधीर सिंह, नीरज कुमार बबलू, पटना के बांकीपुर से बीजेपी के विधायक नितिन, नवीन दरभंगा के विधायक संजय सरावगी, पटना की दीघा सीट से विधायक संजीव चौरसिया के अलावा प्रमोद कुमार, कृष्ण कुमार ऋषि, भागीरथी देवी, एमएलसी सम्राट चौधरी और नीतीश मिश्रा का भी नाम है.

इन चेहरों को मंत्रिमंडल में जगह मिलेगी या नहीं इस पर अंतिम मुहर दिल्ली स्थित शीर्ष नेतृत्व को लगानी है.

सोमवार को नई दिल्ली में बिहार बीजेपी (BJP) के शीर्ष नेताओं ने राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा (JP Nadda) के साथ अति महत्वपूर्ण बैठक की जिसमें बिहार में प्रस्तावित नीतीश मंत्रिमंडल के विस्तार को लेकर कई नामों पर चर्चा की गई है. दरअसल बीजेपी इस बार मंत्रिमंडल के विस्तार में पहले की तरह ही सामाजिक और क्षेत्रीय समीकरण का खासा ध्यान रखना चाहती है, इसको लेकर ही अलग-अलग नामों पर चर्चा की गई है.

दरअसल बीजेपी की तरफ से जिन नामों को शीर्ष आलाकमान को सुझाया गया है उनमें से कुछ नामों पर जेडीयू को आपत्ति है. इसको लेकर पार्टी के शीर्ष नेताओं ने मंथन की है. सूत्रों के मुताबिक जिन नामों पर चर्चा हुई है उन पर अंतिम फैसला पार्टी आलाकमान जल्द ही लेगा जिसके बाद बिहार में नीतीश मंत्रिमंडल के विस्तार का रास्ता साफ हो जाएगा. इस बात की पूरी संभावना जताई जा रही है कि इसी सप्ताह बिहार में नीतीश मंत्रिमंडल का विस्तार होगा. मंत्रिमंडल के विस्तार को लेकर जेडीयू पहले ही साफ कर चुका है कि अब विलंब बीजेपी की तरफ से हो रहा है, यानि ये माना जा रहा है कि जेडीयू ने अपने मंत्रियों के नाम फाइनल कर लिए हैं.

administrator

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *