राज कुंद्रा और उसके पार्टनर व्हाट्सऐप ग्रुप बनाकर मुंबई से लंदन तक पॉर्नोग्राफी की बिजनेस डील करते थे!

105

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

इंडिया सिटी लाइव (MUMBAI)21.07.21: मुंबई पुलिस ने बॉलीवुड एक्ट्रेस शिल्पा शेट्टी (Shilpa Shetty) के पति और बिजनेसमैन राज कुंद्रा (Raj Kundra) को सॉफ्ट पॉर्नोग्राफी फिल्म बनाने के आरोप में गिरफ्तार किया है. राज कुंद्रा पर सॉफ्ट पॉर्न फिल्म बनाने के अलावा ऐप पर अपलोड करने का भी आरोप है. आज मुंबई पुलिस (Mumbai Police) राज कुंद्रा को कोर्ट में पेश करेगी. पुलिस का दावा है कि राज कुंद्रा ने अपने एक रिश्तेदार के साथ मिलकर यूके बेस्ड कंपनी बनाई थी और ये कंपनी ही पोर्न फिल्मों के लिए कई एजेंट्स को कॉन्ट्रैक्ट देती है.

क्राइम ब्रांच के सूत्रों के मुताबिक राज कुंद्रा (Raj Kundra) ने अपने रिश्तेदार प्रदीप बख्शी (Pradeep Bakshi) के साथ मिलकर यूके बेस्ड केनरिन  (Kenrin) प्रोडक्शन हाउस नाम की एक कंपनी बनाई. प्रदीप बख्शी यूके में ही रहता है और कंपनी का चेयरमैन होने के साथ-साथ राज कुंद्रा का बिजनस पार्टनर भी है. सूत्रों के अनुसार, राज कुंद्रा अप्रत्यक्ष तौर पर इस कंपनी के मालिक और इन्वेस्टर भी हैं. ये कंपनी पोर्न फिल्मों के लिए कई एजेंट्स को कॉन्ट्रैक्ट देती है और फंडिंग करती है.

क्राइम ब्रांच की जांच में एक व्हाट्सऐप ग्रुप का खुलासा हुआ है, जिसके जरिए ही कॉन्ट्रैक्ट को लेकर बातचीत होती थी. इस व्हाट्सएप्प चैट ग्रुप का नाम ‘H Accounts’ है और इसमें राज कुंद्रा के साथ लंदन में बैठे प्रदीप बक्शी समेत 5 लोग शामिल हैं. क्राइम ब्रांच के हाथ इस ग्रुप में होने वाली चैट हाथ लगी है, जिसमें रेवेन्यू के बारे में बातचीत सामने आई है. इस ग्रुप में ही हर दिन की कमाई कितनी हुई, पोर्नोग्राफी में काम करने वाली एक्ट्रेस को कितने पैसे देने है, बिजनेस में कमाई घट रही या बढ़ रही, सारी बातें की जाती थी. इस ग्रुप में ही मार्केटिंग स्ट्रेटजी, सेल्स में हो रही बढोतरी और अन्य डील को लेकर बातचीत होती थी.

- Sponsored -

- Sponsored -

राज कुंद्रा का एक्स पीए उमेश कामत (Raj Kundra Ex PA Umesh Kamat) केनरिन  (Kenrin) प्रोडक्शन हाउस का भारत में रिप्रेजेंटेटिव था. अभिनेत्री गहना वशिष्ठ और उमेश कामत को पॉर्न फिल्म बनाने का काम केनरिन प्रोडक्शन हाउस से मिलता था. अलग-अलग तरह की पॉर्न फिल्म बनाने के लिए एडवांस केनरिन प्रोडक्शन हाउस से ही मिलता था, जिसके बाद ये दोनों पॉर्न फिल्म तैयार करने में जुट जाते थे.पॉर्न फिल्में बनाने के बाद मेल आईडी के जरिए केनरिन प्रोडक्शन हाउस में भेज दिया जाता था. पॉर्न फिल्म मिलने के बाद पैसे सीधे इन लोगों के अकॉउंट में ट्रांसफर कर दिए जाते. केनरिन कंपनी के जरिए ही पॉर्न फिल्मों को सोशल मीडिया ऐप Hotshot पर अपलोड किया जाता था. इसी पॉर्नोग्राफी के मामले में इन्वेस्टिगेशन के दौरान क्राइम ब्रांच को ये भी मालूम पड़ा कि केनरिन प्रोडक्शन हाउस देश भर में इसी तरह अलग-अलग एजेंटो के जरिए पॉर्नोग्राफी का कारोबार कर रही है और पॉर्नोग्राफी की फंडिंग करती है.

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

- Sponsored -

- Sponsored -

Comments
Loading...

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More