गबन के मामलें में फंस गये पहलवान.. सीज हुऐ वाहन जप्त हुआ मकान….

93

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

कभी लालू के हनुमान कहे जाने वाले बक्सर जिले के डुमराव विधानसभा के पूर्व विधायक और बिहार सरकार के पूर्व मंत्री ददन पहलवान आज सरकार के जाल में फंसते दिख रहे हैं गौरतलब है कि कभी अपनी दबंगई और पहलवान स्वभाव के चलते चर्चा में रहने वाले ददन पहलवान गबन के मामले में ईडी के निशाने पर हैं
प्रवर्तन निदेशालय ने कार्यवाही करते हुए पू
गबन में आरोपीत पूर्व मंत्री ददन पहलवान की जमीन, गाड़ी, बैंक बैलेंस सब जब्त कर लिया है..

ददन पहलवान व पारिवारिक सदस्यों के के 15 भूखंड, आधा दर्जन कारों के साथ साथ 68 लाख की संपत्ति जप्त

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

– बिहार तथा उत्तर प्रदेश में दर्ज 5 मामलों की जांच के दौरान प्रवर्तन निदेशालय ने पाया था बड़ा झोल..
बिहार सरकार के पूर्व मंत्री तथा बाहुबली नेता ददन पहलवान के खिलाफ प्रवर्तन निदेशालय के द्वारा बड़ी कार्रवाई की गई है. आय से अधिक संपत्ति अर्जित करने के मामले में उनकी तथा उनकी पत्नी तथा पुत्र के तकरीबन 15 भूखंड एवं आधा दर्जन गाड़ियों तथा बैंक बैलेंस को सीज किया गया है. धन शोधन निवारण अधिनियम, 2002 (पीएमएलए) के तहत की गई इस कार्रवाई में ईडी ने ददन पहलवान उनकी पत्नी तथा उनके पुत्र के 67,99,374/- (सठसठ लाख निन्यानबे हजार तीन सौ चौहत्तर रुपये) की संपत्तियों को जब्त कर लिया है.
प्रवर्तन निदेशालय की तरफ से जारी प्रेस विज्ञप्ति में कहा गया है कि ददन सिंह पर 2004 से ही बिहार और उत्तर प्रदेश राज्य में कई आपराधिक मामले दर्ज रहे हैं. उन्हीं के जांच के दौरान यह बात सामने आई थी कि उन्होंने आय से अधिक संपत्ति अर्जित की है. जिसके बाद ईडी ने उन्हें नोटिस भी भेजा था. पिछले विधानसभा चुनाव के दौरान यह बात सुर्खियां बनी थी..लेकिन, ददन पहलवान ने प्रेस वार्ता कर इसे महज अफवाह करार दिया था तथा ठीक चुनाव के समय विरोधियों साजिश भी बताया था.
ददन सिंह एवं उनके परिवार के सदस्यों की 67 लाख 99 हज़ार 374 रुपये की जब्त संपत्तियों में ददन पहलवान की पत्नी उषा देवी के नाम से डुमराँव में खरीदे गए सात भूखंड जिनकी कीमत 14 लाख 11 हज़ार रुपये, ददन यादव के पुत्र करतार सिंह यादव, पुत्र के नाम डुमरांव और बलिया में खरीदे गए चार भूखंड जिसकी कीमत 5 लाख 15 हज़ार रुपये, चार वाहन जिनमें 2 स्कॉर्पियो, 1 स्विफ्ट एवं 1 मार्शल जीप (सभी ददन सिंह के नाम से पंजीकृत) जिनकी कुल कीमत  27 लाख 88 हज़ार 189 रुपये, 1 महिंद्रा जीप जो उषा देवी के नाम से पंजीकृत है तथा उसकी कीमत  2 लाख 66 हज़ार 518 रुपये, करतार सिंह के नाम से खरीदी गई 2 स्कोर्पियो कार जिसकी कीमत 17 लाख 97 हज़ार 34 रुपये है को जब्त किया है. इसके अलावे ददन सिंह और उषा सिंह के नाम से बैंक खाते में उपलब्ध शेष 21 हज़ार 903 रुपये  जब्त कर लिए हैं.प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने ददन सिंह और अन्य के खिलाफ बिहार और उत्तर प्रदेश के विभिन्न पुलिस स्टेशनों में दर्ज पांच प्राथमिकियों के आधार पर पीएमएलए के प्रावधानों के तहत जांच शुरू की थी. प्रवर्तन निदेशालय के द्वारा जारी की गई प्रेस विज्ञप्ति में ही यह भी कहा गया है कि ददन सिंह यादव उर्फ पहलवान एक आदतन अपराधी है और भारतीय दंड संहिता, 1860 और शस्त्र अधिनियम, 1959 के तहत हत्या के प्रयास, आपराधिक साजिश, धोखाधड़ी और बेईमानी से संपत्ति के वितरण से संबंधित अपराध के लिए कई अपराधों का आरोप है. बिहार और उत्तर प्रदेश में जालसाजी, हथियारों और गोला-बारूद आदि का उपयोग के  मामलों में उनकी पत्नी उषा देवी और उनके बेटे करतार सिंह यादव भी सह आरोपी हैं. पीएमएलए, 2002 के तहत जांच से पता चला कि आरोपी ने अपने परिवार के सदस्यों के नाम पर विभिन्न अचल संपत्तियों और बैंक के पास जमा राशि हासिल करने के लिए अपराध की आय का निवेश किया है, ताकि उन्हें बेदाग के रूप में पेश किया जा सके.
उन्होंने यह भी बताया था कि वह व्यवसाय करते हैं और कंपनियों का संचालन करते हैं जिनसे उन्हें आय प्राप्त होती है उन्होंने इस तरह का दावा कर अपनी संपत्तियों का रिकॉर्ड छिपाने का प्रयास किया था लेकिन, जांच के दौरान ददन सिंह अथवा उनके परिवारिक सदस्यों द्वारा चलाए जा रहे हैं किसी भी तरह के व्यवसाय अथवा कंपनी के बारे में प्रवर्तन निदेशालय को जानकारी नहीं मिली बताया जा रहा है कि ईडी की जांच आगे भी जारी रहेगी.

बक्सर से कपीन्द्र किशोर की रिपोर्ट…

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -
Comments
Loading...

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More